ताज़ा खबर

पo नरेंद्र भार्गव ने श्रद्धालुओं को जीवन में हमेशा अच्छे काम करने का दिया संदेश

भांवरकोल:ब्लाक क्षेत्र के सहरामाडीह में चल रही महामृत्युंजय यज्ञ में आयोजित भागवत कथा व्यास ने श्रद्धालुओं को जीवन में हमेशा अच्छे काम करने का संदेश दिया।

इस दौरान मध्यप्रदेश के गुना जिला से पधारे पंडित नरेंद्र भार्गव ने श्रीमद्भागवत कथा का श्रवण ही मानव जीवन के उद्घार की सीढ़ी है, शर्त सिर्फ इतनी है कि श्रोता की श्रद्धा कितनी गहरी है, क्योंकि उसी गहराई के अनुसार ही भक्ति का फल मिलता है।चरित्र का अद्भुत वर्णन करते हुए कहा कि ब्रह्मा, विष्णु, शिव में कोई भेद नहीं है।जो भी मनुष्य इन तीनों में भेद करता है

वह अहंकारी दक्ष की तरह दुर्गति को प्राप्त करता है।श्रीमद्भागवत कथा मनुष्य की सभी इच्छाओं को पूरा करती है।यह कल्पवृक्ष के समान है। भागवत कथा ही साक्षात कृष्ण है और जो कृष्ण है, वही साक्षात भागवत है। भागवत कथा भक्ति का मार्ग प्रशस्त करती है। बवही आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहत समाजिक कार्यकर्ता को दण्डी स्वामी अनंतानंद जी महाराज के हाथों प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर सर्वजीत चैतन्य महाराज, रजनीश राय, संजीव कुमार त्यागी, पंकज राय ,विकास राय, हर्ष राय, मदन दुबे, विजय राय, विनोद राय आदि लोग मौजूद रहे।

[Rich_Web_Slider id="4"]