ताज़ा खबर

जहां पर लगवाई पहली डोज़, दूसरी डोज़ के लिए सुविधानुसार नजदीक के स्वास्थ्य केंद्र जाएं

गाजीपुर, 03 अप्रैल 2021,
कोविड-19 टीकाकरण को लेकर शासन अब गंभीर हो गया है जिसको लेकर 45 साल तक के उम्र के व्यक्ति का टीकाकरण कराना शुरू कर दिया है। इसके लिए प्रतिदिन 12000 लोगों का टीकाकरण कराने का लक्ष्य दिया गया है। टीकाकरण को लेकर कई तरह की भ्रांतियां लोगों में है जिसकी वजह से अभी भी लक्ष्य के सापेक्ष टीकाकरण में काफी कमी है । ऐसे में उन भ्रांतियों को लेकर जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ उमेश कुमार से खास बातचीत की गई।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि जनपद के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, नवीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, जिला पुरुष अस्पताल और जिला महिला अस्पताल को मिलाकर कुल 76 केंद्रों पर निःशुल्क टीकाकरण किया जा रहा है। निजी नर्सिंग होम पर 250 रुपया का भुगतान कर टीकाकरण कराया जा सकता है। बातचीत के दौरान पूंछा गया कि जिस व्यक्ति ने अपना टीकाकरण जिस केंद्र पर करवाया है क्या दूसरी डोज़ के लिए भी वहीं जाना होगा। इस पर उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि ऐसा बिलकुल भी जरूरी नहीं है। लाभार्थी अपनी सुविधानुसार, नजदीक के टीकाकरण केंद्र पर जाकर कोविड का दूसरा टीका लगवा सकता है । केवल यह ध्यान रखना होगा कि पहला टीका कोवैक्सीन का लगा है या कोविशील्ड का । दूसरा भी उसी कंपनी का लगवाना होगा।
इस दौरान उन्होंने बताया कि दूसरी डोज़ के लिए कोई रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि पहले टीके के लिए रजिस्टर किया है, तो वह स्वतः ही दूसरे टीके के लिए भी रजिस्टर्ड हो जाएगा। जिन्हें पहला टीका लग चुका है, उन्हें केंद्र पर जाकर मोबाइल नंबर बताना होगा, ताकि उनकी पूरी जानकारी मिल जाए कि पहला टीका कब लगा था। उसके बाद उन्हें दूसरा टीका लगाया जाएगा। दूसरी डोज़ के लिए अब समय बढ़ा दिया गया है । उन्होने बताया कि जिन लाभार्थियों को कोविशील्ड लगी है वह लाभार्थी 6 से 8 सप्ताह में दूसरी डोज़ लगवा सकते हैं तथा जिन लाभार्थियों को कोवैक्सीन लगी है वह लाभार्थी 4 से 6 सप्ताह में दूसरी डोज़ लगवा सकते हैं।
उन्होने कहा कि 45 साल से ऊपर के व्यक्तियों का टीकाकरण शुरू होने के बाद 45 साल से नीचे के लोग भी टीका लगवाने की अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं। अभी स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से कोई दिशानिर्देश नहीं दिए गए हैं। केंद्रीय गाइडलाइन आने के बाद ही 18 साल से ऊपर और 45 साल से कम के लोगों को कोरोना का टीका लगया जा सकेगा ।